Sunday, March 13, 2011

कुछ अपने बारें में


ये हूँ मै अथर्व देवांगन यानि आपका दर्श 
और ये है मेरे अलग अलग अंदाज़ 
कभी हँसता हुआ तो कभी कल्पना में खोया हुआ. 
 
 उन दिनों मै न जाने क्या क्या सोचकर मुस्कुराया करता था
पर अब मै यूँ ही नहीं हँसता अब तो मेरी हंसी महगी हो गई है . जब मुझे कोई अच्छा लगता है मै तभी हँसता हूँ. अब ये मै बाद में बताऊंगा कि मुझे अच्छा कौन लगता है अभी तो मेरे परवार से मिलवाताहूँ 

 ये है मेरे डैडी

ये है मेरी मम्मा











हम  delhi में रहते है पर  हमारा घर छत्तीसगढ़ में है
मेरे दादा-दादी भिलाई में रहते  है
और नानी नाना और मामा रायपुर में  

अभी बस इतना ही धीरे धीरे आपको अपने बारे में सब बताऊंगा अभी तो मुझे मम्मा चाहिए 
मम्मा where  r u ?

16 comments:

  1. दर्श बेटा बहुत सुंदर लगा, बहुत बहुत आशिर्वाद
    दर्श बेटा पापा या मम्मी को बोलना इस Word verification को हटा दे तो अच्छा होगा

    ReplyDelete
  2. दर्श बेटे,
    आप बहूऊउत प्यारे हो...
    आपको अदा आंटी का ढेर सारा प्यार मिले और ख़ूब सारा आशीर्वाद...

    ReplyDelete
  3. हाय...........स्वीटू...........छुटकू ब्लॉगर.........
    अच्छा किया यहां आ गया...
    देखा कित्ती जल्दी मजा आया....
    कल्पना में भी खो गया.....
    और नींद में भी हँस पाया....हा हा हा

    ReplyDelete
  4. darsh babu
    aapka prithwi par aamad saakar ho
    aap dunya me naam kamayen aur samaj ke liye pathpradarshk hon.


    htpp://afsarpathan.blogspot.com

    pe aap ka swaagat hai.

    ReplyDelete
  5. दर्शनीय बना दिया है आपने दर्श के कोना को नीलम जी। शुभकामना्ं।
    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    ReplyDelete
  6. दर्श जी आपका दर्शन पाकर बहुत ख़ुशी हुयी. आपको पता है कि हमारा बेटा सात्विक आज पाँच महीने का हो गया है. वैसे अभी उसने अपना ब्लॉग नही बनाया है पर उसकी माँ के ब्लॉग पर ज़रूर एक ट्रिप लेना.
    take care with ur mamma....
    www.myseconddunia.blogspot.com
    अंतर्ज्योति

    ReplyDelete
  7. ब्लॉग जगत में
    पदार्पण के लिए दर्श को
    ढेर सारी शुभकामनाएँ
    जैसा प्रभावी आगमन
    वैसा ही जीवन हो
    निरंतर फलो फूलो
    दुनिया को रोशन करो
    अपने बारे में बताते रहो ,
    माता-पिता की सेवा करो
    आशीर्वाद बड़ों का लेते रहो
    हम सब साथ तुम्हारे

    ReplyDelete
  8. आप का दर्श बहुत प्यारा है
    बहुत - बहुत शुभकामना सहित
    दीपांकर कुमार पाण्डेय

    ReplyDelete
  9. नन्‍हे ब्‍लागर अथर्व तुम्‍हें ढेर सारी शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  10. बहुत - बहुत शुभकामनाएं आपके लिये ।

    ReplyDelete
  11. Darsh aur darsh ke mummy papa ko bahut bahut shubhkamnayen..:)

    ReplyDelete
  12. inna pyala blogger to pehli baar dekha hai...!! Darsh beta.. apni mummy se bhi aacha blogger ban kar dikhana.....my best wishes are with you...!!!

    ReplyDelete
  13. ale le kitna pyala hai darshu best of luck

    ReplyDelete